Header Ads

Bathua Paratha Recipie in Hindi |बथुआ पराठा रेसिपी

Bathua Paratha Recipie in Hindi

Bathua Paratha Recipie in Hindi


 दोस्तों आज मैं बथुआ की एक खास रेसिपी Bathua Paratha Recipie in Hindi के बारे में विस्तार से बताऊंगा ।बथुआ एक हरा साग है जो सर्दियों के मौसम में अधिकतर खाया जाता है। गुजरात में इसको चील के नाम से भी जानते हैं। यह औषधिए गुणों से भरपूर होता है और साथ में ही इसमें आयरन और जिंक की प्रचुर मात्रा भी होती है।यह पाचन शक्ति भी बढ़ाता है, और कई बीमारियों से निजात भी दिलाता है।अगर आपको घी खाना पसंद है तो आप बथुए के परांठे को घी के साथ खाएं। घी से इसका स्वाद और भी बढ़ जाता है।

बथुए के परांठे को ज्यादातर लोग सुबह के नास्ते में दही और अंचार के साथ भी खाते हैं। अगर आप किसी तरी वाली सब्जी को बथुए के पराठे के साथ अपने परिवार में सर्व करेंगे तो सभी लोग बहुत ख़ुश होंगे।

बथुआ का पराठा अक्सर लोग सर्दियों में ज्यादा पसंद करते हैं।बथुआ को उबालकर पीसकर आटे के साथ गूंथ कर स्वादिष्ट पराठा बनाते हैं , तो आइये दोस्तों हम भी बथुए का पराठा बनाना शुरू करते हैं।


आवश्यक सामग्री - Ingredients to make Bathua paratha


*गेहूँ का आँटा - लगभग 300 ग्राम

*बेसन -100 ग्राम ( 1 कप के बराबर )

*बथुआ - 300 ग्राम ( 1 छोटा गुच्छा )

*हींग - 1से 2 पिंच

*जीरा - आधी छोटी चम्मच

*हरी मिर्च - 2 ( बारीक़ कटी हुई )

*लाल मिर्च -1 से 4 छोटी चम्मच 

*नमक - स्वादानुसार ( 1 1/ 4 छोटा चम्मच )

*तेल - परांठा सेंकने के लिए ( आवश्यकतानुसार )


बनाने की विधि -How to make Bathua paratha

Bathua Paratha Recipie in Hindi


सबसे पहले आँटा और बेसन को एक बर्तन में अच्छी तरह से छान लें। उसके बाद आटे में स्वादानुसार ( 3/4 छोटी चम्मच ) नमक और दो छोटी चम्मच तेल डाल दें और उसे पानी की सहायता से अच्छी तरीके से गूंथ लें,( अगर सर्दियों के मौसम में आप गरम पानी से आँटा गुंथते हैं तो जल्दी गूंथ जायेगा )।अब गुंथे हुए आँटे को ढककर लगभग आधे घंटे के लिए रख दें, इससे आँटा फूलकर सेट हो जायेगा।

जब आँटा फूलकर सेट हो जाये तो बथुए को साफ कीजिये और दण्डियां तोड़कर हटा दीजिये। और अब बथुए को साफ पानी से कम से कम 2 बार धो डालिये और काट लीजिये।

कढ़ाई को गर्म होने के लिए गैस पर चढ़ा दीजिए, जब कढ़ाई गर्म हो जाये तो एक टेबल स्पून के बराबर तेल डालिये और उसे हल्का सा गर्म कीजिए। गर्म तेल में जीरा और हींग डाल दीजिये, और जीरा भूनने पर हरी मिर्च डालिये।अब लाल मिर्च, कटा हुआ बथुआ और नमक डाल दीजिये। चमचे की सहायता से चलाते हुए सभी को अच्छी तरीके से मिला लीजिए। 3-4 min तक धीमी गैस पर ढक्कर पकाईये और जब पक जाये तो ढक्कन हटा लीजिये। उसके बाद बथुए कर पानी जलने तक पिट्ठी को पका लीजिए।अब बथुए की पिट्ठी परांठों में भरने के लिए बिलकुल तैयार हैं।

अब तक आटा भी तैयार हो गया है पराठों में भरने लें लिए।आँटे से थोड़ा सा आटा निकालिये और उसकी लोई बना लीजिये।लोई बनने के बाद 3 इंच के व्यास में उसे बेलिए और एक छोटी चम्मच पूरी भरी हुई पिट्ठी उस पर रखिये और अच्छे से बंद कर दीजिये।अब इस भरी हुई लोई को हथेली से दबाकर थोड़ा सा बड़ा कर लीजिये और अब इस लोई को 6-7 इंच के व्यास में गोल बेल लीजिए।

तवा गैस पर चढ़ा दीजिये और गर्म होने के बाद परांठा तवे पर डालिये। और तेल लगाकर दोनों तरफ से ब्राउन होने तक अच्छी तरह से सेंक लीजिये, ऐसे ही एक एक करके सारे परांठे तैयार कर लीजिये।तो लीजिए दोस्तों आपका बथुआ का पराठा तैयार हो चुका है।आप इसे चटनी,आंचार और दही के साथ खा सकते हैं।

Read more.......Makki ki Roti Recipie in Hindi |मक्के की रोटी रेसिपी






        

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ